असम की राजधानी कौन सी है- Asam ki rajdhani kaun si hai

असम भारत के उत्तर-पूर्वी भाग में स्थित एक राज्य है। यह नागालैंड, मिजोरम, मणिपुर, त्रिपुरा, बंगाल, भूटान और अरुणाचल प्रदेश से सम्बद्ध है। असम एक सांस्कृतिक और ऐतिहासिक धरोहर से भरा हुआ है। यहां की राजधानी भी इस राज्य की संस्कृति, भूगोल और ऐतिहासिक महत्व को दर्शाती है।

असम का स्थानांतरण

असम की स्थानिक निर्देशांक हैं 26.2006 उत्तर अक्षांश और 92.9376 पूर्व देशांतर। यह भारत के सबसे बड़े नदी ब्रह्मपुत्र के किनारे स्थित है। इसके अलावा, असम के दक्षिण में बंगाल की सीमा है और उत्तर, पूर्व और पश्चिम में बांग्लादेश से संयुक्त है।

इतिहास और संस्कृति

इतिहास

असम का इतिहास बहुत प्राचीन है और यहां कई ऐतिहासिक घटनाएं हुई हैं। वेदिक काल में, असम को कामरूप के नाम से जाना जाता था। इसके बाद इसे वर्ष 1228 में सुल्तान गियासुद्दीन बलबन के शासनकाल में दिल्ली सल्तनत का हिस्सा बना दिया गया। बाद में मुगल शासकों ने भी इसे अपना बनाया। असम के इतिहास में अहमद शाह के शासनकाल में असम में इस्लामी संस्कृति का विकास हुआ। 1826 में असम ब्रिटिश शासन के अधीन आया और 1947 में भारत स्वतंत्र हुआ तो यह भारत का एक राज्य बन गया।

संस्कृति

असम की संस्कृति उत्कृष्टता और समृद्धि से भरी हुई है। यहां की स्थानीय भाषा असमिया है और लोग अपने परंपरागत संस्कृति को धारण करते हैं। असम की लोकसंख्या का एक महत्वपूर्ण हिस्सा अहमदिया मुस्लिम समुदाय भी है, जो अपने अलग-थलग धर्म, संस्कृति और भाषा के लिए प्रसिद्ध है।

भूगोल

भूभाग और सीमाएँ

असम एक भूमध्य सागरीय क्षेत्र में स्थित है और यह भारत के समृद्ध प्राकृतिक सौंदर्य से भरा हुआ है। यहां के मैदानी भाग और हिमालयी पर्वत श्रृंखला के मिलने से असम का भूगोल विशेष है। ब्रह्मपुत्र नदी इस राज्य को अत्यंत प्राकृतिक संसाधनों से समृद्ध करती है।

जलवायु

असम का जलवायु उष्णकटिबंधीय और उम्रभरी होता है। गर्मी के मौसम में यहां तापमान 35-38 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच सकता है। वर्ष के मास में मानसून सामान्य रूप से आता है और असम को अधिक वर्षा के साथ अच्छी खेती का अवसर प्रदान करता है।

जनसंख्या

असम भारत के प्रमुख राज्यों में से एक है जिसमें लगभग 3 करोड़ से ज्यादा लोग रहते हैं। यहां की जनसंख्या में मुख्य रूप से असमिया और बंगाली भाषा के लोग होते हैं। असम की संस्कृति धार्मिक एवं परंपरागत मूल्यों को समर्थन करती है जिससे यहां की जनता का एक अद्भुत संगम होता है।

अर्थव्यवस्था

कृषि

असम की अर्थव्यवस्था का मुख्य आधार कृषि पर रहता है। यहां मुख्य रूप से धान की खेती होती है, जो भारत के लिए महत्वपूर्ण फसल है। असम भारत में धान की प्रमुख उत्पादक राज्यों में से एक है। इसके अलावा, चाय और चारा भी यहां की अर्थव्यवस्था के लिए महत्वपूर्ण योगदान करते हैं।

उद्योग और व्यापार

असम में छोटे और मध्यम आकार के उद्योग और व्यापार की संख्या बढ़ती जा रही है। यहां गुण्डी और गुर्जराती विभाग में पेपर मिल, जूट मिल, आइरन और स्टील संयंत्र, और प्लास्टिक उत्पादन के कारखाने स्थापित किए गए हैं। व्यापार में असम भारत के सबसे महत्वपूर्ण शहरों में से एक है और यहां व्यापारिक गतिविधियां अधिक उन्नत हो रही हैं।

पर्यटन

असम एक प्राकृतिक सौंदर्य से भरा हुआ राज्य है जो पर्यटकों के लिए आकर्षक स्थलों का भंडार है। यहां के अन्यान्य जीवन्त धरोहर, प्राचीन मंदिर, अनूठे बाजार और ब्रह्मपुत्र नदी के नाविक यात्रा पर्यटकों को आकर्षित करते हैं। असम के वन्यजीवन का सुंदर संसार भी पर्यटकों को खींचता है।

सरकार और राजनीति

प्रशासनिक विभाजन

असम को विभिन्न जिलों में विभाजित किया गया है, जो अपने-आप में प्रशासनिक और राजनीतिक नियंत्रण में होते हैं। प्रदेश को विधानसभा और लोकसभा के चुनावों द्वारा राजनीतिक तौर पर प्रबंधित किया जाता है।

राजनीतिक प्रणाली

असम में चुनावी प्रक्रिया नियमित रूप से होती है और राजनीतिक दलों की गतिविधियां इसे जीवंत रखती हैं। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (भा.रा.का), भारतीय जनता पार्टी (भा.जन.पा), असम गणपक्ष (अ.गण.पक्ष) और असम लोकतांत्रिक संघर्ष मोर्चा (अ.लो.ता.सं.मो.) राजनीतिक दलों में से कुछ मुख्य दल हैं।

भाषा

असम की मुख्य भाषा असमिया है, जो असम के लोगों की राजभाषा है। इसके अलावा, असम में बंगाली भाषा भी बोली जाती है, जिसे भारतीय राज्य बंगाल से आए लोग यहां बसे हुए हैं।

धर्म और संस्कृति

असम धर्म और संस्कृति का गहन संगम है। यहां के लोग विभिन्न धर्मों के पालनकर्ता हैं, जिसमें हिंदू और मुस्लिम समुदाय सबसे बड़े हैं। असम के विविध संस्कृति में भगवान विष्णु, भगवान शिव, माता दुर्गा और भगवान गणेश को खास धार्मिक महत्व मिलता है।

खानपान

असम का खानपान भारतीय खाद्य परंपराओं पर आधारित है और यहां के लोग अपने खाने का खास मजा लेते हैं। भात, दाल, मछली, और असम के लोकप्रिय मिठे पुढ़े खास खास व्यंजन हैं।

फेस्टिवल्स और त्योहार

असम के लोग विभिन्न धार्मिक और सांस्कृतिक त्योहारों को मनाते हैं। बिहू एक प्रसिद्ध सर्दी के मौसम में मनाया जाने वाला त्योहार है जिसमें खेतों में बागान और नृत्य किया जाता है। ईद, दिवाली, और धूप चव़तिया भी यहां के लोगों द्वारा उत्साह से मनाए जाते हैं।

पर्वतीय स्थल

असम के अद्भुत पर्वतीय स्थल प्राकृतिक सौंदर्य से भरे हुए हैं। तावांग, दबक झरना, और नैतों दूरी शिखर इस राज्य के चरम पर्वतीय स्थलों में से कुछ हैं। यहां पर्वातारोहण और ट्रेकिंग के शौकीन लोगों के लिए स्थानीय और विदेशी टूरिस्ट आकर्षण हैं।

धार्मिक स्थल

असम में कई प्राचीन धार्मिक स्थल हैं जो धार्मिक अनुयायियों को खींचते हैं। कामाख्या देवी मंदिर, उमानंद देवी मंदिर, और पोआ मेको गुफा इस राज्य के प्रमुख धार्मिक स्थलों में से कुछ हैं।

प्रमुख शहर

गुवाहाटी असम की राजधानी शहर है और यहां का सबसे बड़ा शहर भी है। यह असम की आर्थिक और व्यापारिक गतिविधियों का केंद्र है और यहां की अपनी खासता है।

असम के प्रमुख दर्शनीय स्थल

असम में कई दर्शनीय स्थल हैं जो पर्यटकों को आकर्षित करते हैं। माजुली द्वीप, काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान, होलोजी संग्रहालय, और सुवन्नाक्षेत्र मंदिर असम के मुख्य दर्शनीय स्थलों में से कुछ हैं।

निष्कर्ष (Conclusion)

असम भारत का एक अद्भुत राज्य है जो अपने ऐतिहासिक और सांस्कृतिक धरोहर के लिए प्रसिद्ध है। यहां की सुंदर प्राकृतिक सौंदर्य, पर्वतीय स्थल, धार्मिक स्थल, और लोकसंस्कृति विभिन्न पर्यटकों को आकर्षित करते हैं। असम की राजधानी गुवाहाटी और अन्य प्रमुख शहरों की विकासशीलता ने इसे अर्थव्यवस्था में वृद्धि का एक मुख्य केंद्र बना दिया है।

असम के प्रमुख दर्शनीय स्थल और रिच धरोहर विभिन्न पर्यटकों को आकर्षित करते हैं जिससे इस राज्य की पर्यटक उद्योग का विकास होता है। असम की धार्मिक संस्कृति, पर्वतीय स्थल, और प्राकृतिक सौंदर्य आत्मीयता और शांति का एक सार्वभौमिक अनुभव प्रदान करते हैं।

1. असम की राजधानी क्या है?

उत्तर-पूर्वी भारत में स्थित असम की राजधानी गुवाहाटी है।

2. असम के प्रमुख धार्मिक स्थल कौन-कौन से हैं?

असम में कामाख्या देवी मंदिर, उमानंद देवी मंदिर, और पोआ मेको गुफा प्रमुख धार्मिक स्थलों में शामिल हैं।

3. असम की प्रमुख भाषा क्या है?

असम की मुख्य भाषा असमिया है।

4. असम के प्रमुख त्योहार कौन-कौन से हैं?

असम में बिहू, ईद, दिवाली, और धूप चव़तिया प्रमुख त्योहार हैं।

5. असम के प्रमुख पर्वतीय स्थल कौन-कौन से हैं?

असम के प्रमुख पर्वतीय स्थल में तावांग, दबक झरना, और नैतों दूरी शिखर शामिल हैं।

Leave a Comment